एसबीआई के कैशियर ने एफडी के नाम पर लगाया पौने दो करोड़ का चूना, 150 लोगों को ऐसे बनाया शिकार

digamberbisht

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार
Updated Mon, 02 Dec 2019 07:24 PM IST

ख़बर सुनें

खास बातें

  • देहरादून की विजिलेंस कोर्ट में आरोपी बैंककर्मी ने किया सरेंडर, दूसरा आरोपी गिरफ्तार 
  • बीते साल लालढांग की स्टेट बैंक की शाखा में हुआ था गबन
  • डेढ़ सौ से भी ज्यादा लोगों से रकम इकट्ठी की थी आरोपी ने
डेढ़ सौ से भी ज्यादा लोगों के करीब पौने दो करोड़ रुपये के गबन के आरोपी बैंककर्मी ने सोमवार को देहरादून में विजिलेंस कोर्ट में सरेंडर कर दिया। आरोपी स्टेट बैंक की लालढांग शाखा में कैशियर था, जहां से वह निलंबित चल रहा था। वहीं,  घटना में शामिल रहे दूसरे को आरोपी को हरिद्वार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 

विज्ञापन

लालढांग में स्टेट बैंक की एकल शाखा में वर्ष 2018 में यह घोटाला सामने आया था। बैंक प्रबंधक हर्ष तिवारी ने इस संबंध में कैशियर रहे विभोर चंद्र के खिलाफ श्यामपुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। बैंक प्रबंधन ने कैशियर को निलंबित करते हुए भेल में कार्यालय में अटैच कर दिया था। इधर आरोपी बैंककर्मी को बिना साक्ष्य गिरफ़्तारी पर स्टे मिल गया था। 

बेहद मिलनसार स्वभाव के बैंककर्मी विभोर चंद्र की करतूत का खुलासा एक ग्राहक के बैंक पहुंचने पर हुआ। दरअसल, एक ग्राहक जब अपनी एफडी तुड़वाने पहुंचा, उस दिन विभोर चंद्र छुट्टी पर था। वह फिर बैंक मैनेजर से मिला। बैंक मैनेजर ने पाया कि उस ग्राहक की तो एफडी ही नहीं थी। संदेह होने पर उसने बैंक के आला अफसरान को जानकारी दी। विभागीय जांच हुई तब बैंककर्मी का गबन पकड़ा गया। 

विज्ञापन

आगे पढ़ें

फर्जी रसीद के सहारे कर रहा था गड़बड़

विज्ञापन

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

Weather forecast Today Live Updates: उत्तर भारत जबरदस्त ठंड की चपेट में, हिमाचल और लद्दाख में तापमान शून्य के नीचे

Hindi News राष्ट्रीय Weather forecast Today Live Updates: उत्तर भारत जबरदस्त ठंड की चपेट में, हिमाचल और लद्दाख में तापमान शून्य के नीचे Weather forecast Today Live Updates: उत्तर कश्मीर के गुलमर्ग का प्रसिद्ध स्काइ रिसोर्ट घाटी का सबसे अधिक सर्द स्थान दर्ज किया गया और यहां का तापमान शून्य के […]