प्रदूषण पर संसदीय समिति ने बुलाई थी बैठक, पर नहीं पहुंचे MCD के तीनों कमिश्नर, DDA और मंत्रालय के बड़े अफसर भी नदारद

digamberbisht

अधिकारियों की गैरमौजूदगी के चलते संसद की स्थायी समिति ने इस बैठक को फिलहाल स्थगित कर दिया है। संसदीय कमेटी ने बैठक से गैरमौजूद रहे कर्मचारियों के खिलाफ सख्त टिप्पणी भी की है।

दिल्ली में वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंचा। (AP Photo/Manish Swarup)

दिल्ली में वायु प्रदूषण की बढ़ती समस्या को लेकर आज संसद भवन एनेक्सी में संसदीय स्थायी समिति की बैठक होनी थी। इस बैठक में शामिल होने के लिए शहरी एवं विकास मंत्रालय, डीडीए, एनडीएमसी, सीपीडब्लूडी, एनबीसीसी और दिल्ली म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन के प्रतिनिधियों को बुलाया गया था। लेकिन हैरानी की बात ये है कि जिस वायु प्रदूषण की समस्या के चलते दिल्ली एक गैस चैंबर बनी हुई है और शहर में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी लागू की गई है, उस मुद्दे पर बैठक के लिए एमसीडी के 3 कमिश्नर, डीडीए के उपाध्यक्ष और पर्यावरण विभाग के संयुक्त सचिव जैसे अहम अधिकारी संसद भवन पहुंचे ही नहीं!

बहरहाल अधिकारियों की गैरमौजूदगी के चलते संसद की स्थायी समिति ने इस बैठक को फिलहाल स्थगित कर दिया है। संसदीय कमेटी ने बैठक से गैरमौजूद रहे कर्मचारियों के खिलाफ सख्त टिप्पणी भी की है। दिल्ली में शुक्रवार को कुछ स्थानों पर वायु गुणवत्ता सूचकांक 600 के आसपास था, जो कि काफी खतरनाक है। बता दें कि दिल्ली में बढ़ती वायु प्रदूषण की समस्या पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केन्द्र सरकार को निर्देश जारी किए हैं। निर्देशों के अनुसार, सरकार दिल्ली में एयर प्यूरीफायर टॉवर लगवाने के लिए खाका तैयार करे।

[embedded content]

सुप्रीम कोर्ट ने इसके साथ ही दिल्ली सरकार से भी पूछा है कि ऑड-ईवन स्कीम से वायु प्रदूषण में कुछ कमी आयी है या नहीं, ये हमें बताया जाए। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने सुप्रीम कोर्ट में बताया कि प्रदूषण स्तर बढ़ाने में कारों का सिर्फ 3% योगदान है, जबकि सभी वाहनों को मिलाकर ये 28 प्रतिशत हो जाता है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ऑड-ईवन प्रदूषण की समस्या का स्थायी हल नहीं हो सकता। कचरा फैलाना, निर्माण के दौरान गिरने वाला कूड़ा और सड़क पर उड़ने वाली धूल भी प्रदूषण का स्तर बढ़ाने में बड़ा कारण हैं।

वहीं मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि बारिश या तेज हवा के बहाव से वायु प्रदूषण से राहत मिल सकती है। शुक्रवार शाम में हवा में तेजी आने की संभावना है, ऐसे में शनिवार से वायु प्रदूषण से थोड़ी राहत मिलने के आसार हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

<!–

–>

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

Delhi Pollution: बैठक में नहीं पहुंचे गौतम गंभीर, भड़के जावड़ेकर बोले- यह ठीक नहीं, AAP बोली- ‘गंभीरता सिर्फ कमेंट्री बॉक्स तक’

Hindi News राष्ट्रीय Delhi Pollution: बैठक में नहीं पहुंचे गौतम गंभीर, भड़के जावड़ेकर बोले- यह ठीक नहीं, AAP बोली- ‘गंभीरता सिर्फ कमेंट्री बॉक्स तक’ नाराज जावड़ेकर ने कहा, ‘समिति के सामने नहीं पहुंचना ठीक बात नहीं है। हम इस अतिमहत्वपूर्ण विषय को लेकर गंभीर हैं। सभी एजेसियों के मिलकर काम करने […]