सरकार ने 312 विदेश सिख नागरिकों का नाम ब्लैक लिस्ट से हटाया, भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का था शक

digamberbisht

जांच एजेंसियों ने प्रतिकूल यानी एडवर्स सूची का रिव्यू किया और लिस्ट में 312 लोगों के नाम हटा दिए। अब इस सूची में सिर्फ 2 लोगों के ही नाम बचे हैं।

312 विदेशी सिख नागरिक ब्लैक लिस्ट से हटाए गए।

मोदी सरकार ने 312 विदेशी सिख नागरिकों को ब्लैक लिस्ट से हटा दिया है। इन सभी पर भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का शक था। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। सरकार ने यह फैसला जांच एजेंसियों के रिव्यू करने के बाद लिया है। एजेंसियों ने प्रतिकूल यानी एडवर्स सूची का रिव्यू किया और लिस्ट में 312 लोगों के नाम हटा दिए। अब इस सूची में सिर्फ 2 लोगों के ही नाम बचे हैं।

एक अधिकारी ने इस फैसले पर कहा ‘भारत सरकार ने एडवर्स सूची का रिव्यू किया है। एडवर्स सूची में कुल 314 लोग शामिल थे जो कि सिख समुदाय के हैं। अब इस लिस्ट में सिर्फ दो ही लोग रह गए हैं।’ इस फैसले से सूची से बाहर किए गए सिखों को भारत में वीजा अप्लाई करने की छूट मिलेगी और इसके साथ ही वह अपने परिवार के साथ भारत का दौरा कर सकेंगे। अधिकारी के मुताबिक सूची का रिव्यू एक निश्चित समय अंतराल के दौरान किया जाता है। इस तरह के रिव्यू से विदेशी सिख नागरिकों को राहत दी जाती है जिससे वह भारत में अपने वंशजों से मिल-जुल सकें।

यही नहीं अधिकारी ने बताया कि विदेशों में भारतयी मिशनों में एडवर्स सूचियों की व्यवस्था को भी बंद कर दिया गया है। इसकी वजह से सिख समुदाय के लोगों और उनके परिवार के सदस्यों को कांसुलर या फिर वीजा सेवाएं लेने में परेशानी का सामना करना पड़ता था।

[embedded content]

मालूम हो कि 1980 के दौरान भारतीय सिख और विदेशी सिख एंटी-इंडिया प्रोपगेंडा में शामिल रहे थे। इसके बाद सरकार ने कार्रवाई शुरू की तो गिरफ्तारी के डर से कई सिख विदेश में जा बसे। जो विदेश में जाकर बस गए उनका भारत में आना नामुमकिन हो गया और इसके साथ ही वह अपने परिवार से मिलने में असमर्थ हो गए। इसके बाद सरकार ने इन्हें ब्लैक लिस्ट कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

<!–

–>

और ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

गूगल 4 चार साल पुराने टैक्स विवाद के निपटारे के लिए 7600 करोड़ रुपए चुकाएगी

पेरिस. गूगल फ्रांस में टैक्स से जुड़े विवाद के सेटलमेंट के तहत 96.5 करोड़ यूरो (7,600 करोड़ रुपए) चुकाएगी। कंपनी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। 2011 से 2014 के बीच टैक्स संबंधी धोखाधड़ी के मामले में कोर्ट में यह समझौता हुआ। पेरिस कोर्ट ऑफ अपील ने गूगल को 50 […]