नरेंद्र मोदी पर भड़के असदुद्दीन ओवैसी- जब गाय के नाम पर लोग मारे जाते हैं, तब PM का एंटीना खड़ा क्यों नहीं होता?

digamberbisht

AIMIM चीफ ने यह भी कहा, “गाय हमारे हिंदू भाइयों के लिए पवित्र पशु है, पर इंसानों को संविधान में जीने और बराबरी का अधिकार दिया गया है। मुझे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री यह बात भी ध्यान रखेंगे।”

पीएम नरेंद्र मोदी की ‘ऊं’ और ‘गाय’ वाली टिप्पणी के बाद ओवैसी का यह बयान आया है। (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊं और गाय वाले बयान पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने उन पर जुबानी हमला बोला है। भड़कते हुए सवाल पूछा है कि गाय के नाम पर जब लोग मारे जाते हैं, तब पीएम का एंटीना क्यों नहीं खड़ा होता है? ओवैसी की यह टिप्पणी पीएम के उस ताजा कथन पर आई है, जिसमें उन्होंने कहा था, “कुछ लोगों के कान पर अगर ऊं और गाय शब्द पड़ता है, तो उनके कान खड़े हो जाते हैं।”

बुधवार (11 सितंबर, 2019) को ओवैसी ने पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से कहा, “पीएम ने भाषण में ऐसी बात कही है, उस पर मैं उन्हें याद दिला दूं कि इस मुल्क में हमारे कानों में यकीनन जो वह कह रहे हैं वह भी सुनाई देता है। एक हिंदुस्तानी के कान में इसके साथ ही आजान की, गुरद्वारे और गिरजाघर से आने वाली आवाज भी आती हैं। यहां यह कहना कि एक ही चीज सुनकर कान खड़े हो जाते हैं…।”

बकौल एआईएमआईएम प्रमुख, “हम पीएम से कहना चाहते हैं कि कान तब खड़े होने चाहिए आपके, जब गाय के नाम पर जब लोग मारे जा रहे हैं और संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हों। हम वजीर-ए-आजम से उम्मीद करते हैं कि जब संविधान में जीने का अधिकार लिखा है…चाहे वह तबरेज अंसारी हों, पीलू खान हों या अखलाख हों, उस वक्त पीएम का एंटीना खड़ा होना चाहिए कि आखिर देश में क्या हो रहा है?”

ओवैसी ने यह भी कहा, “गाय हमारे हिंदू भाइयों के लिए पवित्र पशु है, पर इंसानों को संविधान में जीने और बराबरी का अधिकार दिया गया है। मुझे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री यह बात भी ध्यान रखेंगे।” सुनिए ओवैसी का हालिया बयानः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

<!–

–>

और ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

ताइवान जलसंधि से गुजरा कनाडा का युद्धपोत, चीन ने ‘मंशा’ पर उठाए सवाल

Hindi News अंतरराष्ट्रीय ताइवान जलसंधि से गुजरा कनाडा का युद्धपोत, चीन ने ‘मंशा’ पर उठाए सवाल चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘चीन ताइवान जलडमरूमध्य से किसी भी विदेशी युद्धपोत की सामान्य यात्रा को सीमित नहीं करता है, लेकिन मुझे कनाडा की उस विशेष मंशा […]