टीपू जयंती नहीं मनाने पर कर्नाटक की भाजपा सरकार को हाईकोर्ट की फटकार- एक दिन में कैसे ले लिया फैसला, फिर से कीजि विचार

digamberbisht

पीठ ने कहा कि ‘हम राज्य सरकार को 30 जुलाई को लिए गए उनके फैसले पर उन्हें पुनर्विचार करने का निर्देश देते हैं।’

कर्नाटक में एमएलए ने टीपू सुल्तान के सारे संदर्भों को स्कूलों के पाठ्यक्रम से हटाने की मांग की है। तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (file photo)

टीपू जयंती नहीं मनाने पर कर्नाटक की भाजपा सरकार को हाईकोर्ट ने फटकार लगाई है। कोर्ट ने पूछा है कि एक दिन में कैसे इतना बड़ा फैसला ले लिया गया। कोर्ट ने कहा है कि राज्य सरकार एक बार फिर से इसपर विचार करे। 18वीं शताब्दी के मैसूर शासक टीपू सुल्तान की जयंती न मनाने के फैसले के बाद बी एस येदियुरप्पा सरकार सवालों के घेरे में है।

इस फैसले के खिलाफ समाजिक कार्यकर्ताओं के ग्रुप ने हाई कोर्ट में याचिक दायर की थी। मुख्य न्यायाधीश अभय श्रीनिवास ओका और न्यायमूर्ति एसआर कृष्णकुमार की पीठ ने कहा ‘हम राज्य सरकार को 30 जुलाई को लिए गए उनके फैसले पर उन्हें पुनर्विचार करने का निर्देश देते हैं।’

कोर्ट ने यह भी कहा कि सरकार बनने के बाद कैबिनेट का गठन तक नहीं हुआ था लेकिन ‘मात्र एक दिन’ में फैसला ले लिया गया। फैसला इस तरह से नहीं लिया जाना चाहिए कि वह मनमाना लगे। बता दें कि टीपू जयंती 10 नवंबर को मनाई जाती है।

बता दें कि इस साल जुलाई में लिए गए फैसले में येदियुरप्पा सरकार ने टीपू जयंती के वार्षिक समारोह को कनार्टक की भाजपा सरकार ने रद्द कर दिया था। कांग्रेस शासन के दौरान शुरू हुए इस समारोह का आयोजन 2015 से हो रहा था।

[embedded content]

येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली नई सरकार ने सत्ता में आने के तीन दिन के भीतर ‘‘टीपू जयंती’’ समारोह को रद्द करने से संबंधित आदेश पारित किया था। भाजपा और दक्षिणपंथी संगठनों के विरोध के बीच सिद्धरमैया के नेतृत्व वाली तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने 2015 से हर साल 10 नवंबर को वार्षिक समारोह के आयोजन की शुरुआत की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

<!–

–>

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

आलिया को काठियावाड़ी सिखाने के लिए गुजराती कलाकारों से मदद मांग रहे भंसाली

बॉलीवुड डेस्क.आलिया को गंगूबाई काठियावाड़ी के लिए लोकल डायलेक्ट सिखाने के लिए संजय लीला भंसाली इन दिनों मुंबई के गुजराती कलाकारों से लगातार बात कर रहे हैं। अभी तक वे गुजराती थिएटर आर्टिस्ट मनोज जोशी और सुप्रिया पाठक से भी चर्चा कर चुके हैं। फैमिली का है गुजरात से कनेक्शन […]