महाराष्ट्र संकट: RSS चीफ मोहन भागवत से मिलने पहुंचे सीएम देवेंद्र फणवीस, निकलेगा रास्ता?

digamberbisht

इस बार भाजपा के सीटों की संख्या 122 से घटकर 105 होने के कारण शिवसेना लगातार अपनी सहयोगी पर दबाव बना रही है। शिवसेना प्रमुख पहले ही कह चुके हैं कि नई सरकार के गठन के लिए उन्होंने एनसीपी, कांग्रेस समेत अन्य सभी विकल्प खुले रखे हैं।

भागवत और फडणवीस के बीच करीब एक घंटा तक बातचीत हुई। (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र में राजनीतिक अनिश्चितता के बीच राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राष्ट्रीय संघ सेवक प्रमुख मोहन भागवत से मंगलवार को मुलाकात की। दोनों लोगों की बीच बंद कमरे में करीब एक घंटे तक मुलाकात हुई। यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण मानी जा रही है क्योंकि 8 नवंबर को मौजूदा विधानसभा की समयावधि खत्म हो रही है।

24 अक्टूबर को चुनाव परिणाम की घोषणा और बहुमत का आंकड़ा हासिल करने के बाद भी भाजपा-शिवसेना गठबंधन के बीच सरकार गठन को लेकर सहमति नहीं बन पा रही है। शिवसेना जहां 50-50 के फॉर्म्यूले पर अड़ी हैं वहीं भाजपा मुख्यमंत्री पद छोड़ने को तैयार नहीं है।

इस बार भाजपा के सीटों की संख्या 122 से घटकर 105 होने के कारण शिवसेना लगातार अपनी सहयोगी पर दबाव बना रही है। शिवसेना प्रमुख पहले ही कह चुके हैं कि नई सरकार के गठन के लिए उन्होंने एनसीपी, कांग्रेस समेत अन्य सभी विकल्प खुले रखे हैं। इतना ही नहीं शिवसेना नेता संजय राउत तो साफ कह चुके हैं कि इस बार मुख्यमंत्री शिवसेना से ही बनेगा।

राउत ने पार्टी के मुखपत्र सामना में राज्य में सरकार गठन का जो फार्म्यूला सुझाया था उसमें एनसीपी-कांग्रेस के समर्थन से शिवसेना के नेतृत्व में सरकार गठन की बात भी कही गई थी। हालांकि, एनसीपी और कांग्रेस पहले ही शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की संभावना से इनकार कर चुके हैं।

वहीं भाजपा की तरफ से बयानबाजी कम नहीं हुई है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस साफ कर चुके हैं कि दोनों दलों के बीच 50-50 फॉर्म्यूले जैसी कोई बात नहीं है। पार्टी के नेता तो यह भी कह चुके हैं कि भाजपा फिर से चुनाव में जाने को तैयार है। इससे पहले शिवसेना के नेता किशोर तिवारी ने भाजपा की तरफ से गठबंधन धर्म नहीं निभाए जाने का हवाला देकर संघ प्रमुख को इस मामले में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया था।
[embedded content]
तिवारी का कहना था कि इस संकट को हल करने के लिए भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को बाचतीत वाले दल का हिस्सा होना चाहिए। इससे पहले सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी केंद्रीय मंत्री गडकरी से मुलाकात की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

<!–

–>

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

Afghanistan vs West Indies 1st ODI Playing 11, AFG vs WI LIVE Score Updates: इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका, जानिए संभावित प्लेइंग इलेवन

Hindi News खेल Afghanistan vs West Indies 1st ODI Playing 11, AFG vs WI LIVE Score Updates: इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका, जानिए संभावित प्लेइंग इलेवन Afghanistan vs West Indies, AFG vs WI 1st ODI Dream 11 Team Prediction, Playing 11 Today Match, Squad, Players List, Live Cricket […]