VIDEO: CAB पर INC नेता से भिड़े BJP प्रवक्ता, बोले- दलाई लामा आए थे तो नेहरू ने क्या चीन से विरोध किया था?

digamberbisht

खलीक ने इसी पर टोका और आप यह स्पष्ट करें कि कितने बार बांग्लादेश सरकार के साथ इस पर विरोध किया? संसद के अंदर और बाहर बोलिए…।

(BJP प्रवक्ता सुधांशू त्रिवेदी। फोटोः FB/SudhanshuTrivediOfficial)

नागरिकता संशोधन बिल (The Citizenship – Amendment – Bill : CAB) पर बुधवार को एक टीवी डिबेट में Congress और BJP प्रवक्ता के बीच जमकर बहस हुई। हिंदी चैनल आज तक पर ‘दंगल’ शो के दौरान कांग्रेसी सांसद अब्दुल खलीक ने इस बिल को संविधान विरोधी बताया था। उन्होंने कहा कि यह समानता के खिलाफ है।

भगवा पार्टी के नेता सुंधाशु त्रिवेदी ने इसी पर जवाब दिया- हमने सिर्फ हिंदुओं के लिए नहीं किया है। हिंदू, ईसाई, सिख, जैन, बौध, पारसी…जिसके साथ भी हो रहा है। अरे भई, वह अपने देश में गड़बड़ कर रहे हैं, तब हमारी बोलने की सीमा है। हम कैसे बोल सकते हैं? अगर वहां कोई समस्या है, तब हम उन्हें स्थान दे सकते हैं।

खलीक ने इसी पर टोका और आप यह स्पष्ट करें कि कितने बार बांग्लादेश सरकार के साथ इस पर विरोध किया? संसद के अंदर और बाहर बोलिए…। बीजेपी नेता ने इसी पर जवाब दिया- आप वहां के आंतरिक मामले में कैसे बोल सकते हैं? तिब्बत से 1962 में दलाई लामा आए थे, तब क्या नेहरू जी ने चीन से विरोध किया था? दलाई लामा को शरण दी थी न…चीन से दोस्ती थी। हिंदी-चीनी भाई-भाई कह रहे थे आप और दलाई लामा को शरण भी दे रहे थे। गजब का तर्क है…।

बीजेपी प्रवक्ता ने आगे इंदिरा गांधी का जिक्र भी किया और कहा…। देखें, डिबेट में आगे और क्या हुआः

[embedded content]

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

<!–

–>

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

संपादकीय: आदत से लाचार

Hindi News संपादकीय संपादकीय: आदत से लाचार पाकिस्तान की ओर से भारतीय सीमा क्षेत्र की ओर गोलीबारी सामान्य घटना बन चुकी है, लेकिन विडंबना है कि उसे युद्धविराम की स्थितियों तक का खयाल रखना जरूरी नहीं लगता। भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक 10 अक्टूबर 2019 तक पाकिस्तान ने 2317 बार […]