पीओके को भारत में शामिल करने के लिए सेना तैयार, इस पर फैसला सरकार लेगी: सेना प्रमुख

digamberbisht

नई दिल्ली.सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) को लेकर बड़ा बयान दिया। गुरुवार को उन्होंने कहा कि अगला एजेंडा पीओके को फिर से हासिल करना और इसे भारत का हिस्सा बनाना है। ऐसे मुद्दों पर सरकार ही फैसला लेती है। देश की सभी संस्थाएं सरकार के आदेश के अनुसार काम करेंगी। सेना हमेशा तैयार है।

  • केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने मंगलवार को कहा था, ‘सरकार का अगला एजेंडा जम्मू-कश्मीर के बाकी हिस्से (पाक के कब्जे वाले कश्मीर यानी पीओके) को भारत में शामिल करना है। ये केवल मेरी या पार्टी की प्रतिबद्धता नहीं है। यह रेजोल्यूशन तो 1994 में संसद में पीवी नरसिम्हाराव की सरकार के वक्त पास किया गया था।’’
  • जितेंद्र सिंह ने कहा था कि ऐसा कोई भी व्यक्ति जो देश विरोधी गतिविधियों में लगा हुआ है, उसे उसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। वे जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के नेता यासीन मलिक पर निशाना साध रहे थे। यासीन पर वायुसेना अफसरों की हत्या में शामिल होने का आरोप है।

सेना प्रमुख पिछले महीने कश्मीर दौरे पर गए थे

जम्मू-कश्मीर से 370 हटाए जाने के बाद से जनरल बिपिन रावत 31 अगस्त को पहली बार कश्मीर दौरे पर गए थे। इस दौरान उन्होंने नॉर्दर्न कमांड के व्हाइट नाइट कॉर्प्स की फॉरवर्ड पोस्ट का दौरा किया था। दूरबीन की मदद से एलओसी के उस पार की गतिविधियों का जायजा लिया। उन्होंने जवानों से सीमा पार किसी भी तरह की घुसपैठ से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा। इस दौरान उनके साथ नॉर्दर्न कमांड के शीर्ष अधिकारी भी मौजूद थे।

DBApp

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

एलओसी से पीओके की हलचल का जायजा लेते सेना प्रमुख। -फाइल

और ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

Uttarakhand News Latest and breaking Hindi News , Uttarakhand weather, Places to visit in Uttarakhand जानने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें ।
Next Post

पंजाब से कश्मीर जा रहे जैश के 3 संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार, ट्रक से एके-47 राइफलें और विस्फोटक बरामद

पठानकोट. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पंजाब से आ रहे तीन संदिग्ध आतंकियों को गुरुवार को कठुआ में गिरफ्तार कर लिया। आतंकी एक ट्रक में सवार थे।कठुआ एसएसपी श्रीधर पाटिल ने कहा कि गिरफ्तार किए गए तीनों आतंकी जैश-ए-मोहम्मद (जैश)के हैं। उनके पास से 4 एके-56 और 2 एके-47, 6 मैगजीन और […]