X

मुआवजे की मांग को लेकर काश्तकार अदालत की शरण में

ख़बर सुनें

विज्ञापन
विज्ञापन

बागेश्वर। मनकोट निवासी नंदाबल्लभ कांडपाल ने छह साल पूर्व ध्वस्त किए गए मकान का मुआवजा देने की मांग को लेकर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में दरख्वास्त दी है। कहा कि अदालत के आदेश के बाद भी लोनिवि उन्हें मुआवजा नहीं दे रही है।

विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष व सचिव को सौंपी अर्जी में कहा है कि 29 जुलाई 2013 को दबंग विपक्षियों ने उनके घर पर धावा बोलकर न केवल उनके घर का सामान फेंक दिया और उनके साथ मारपीट की। बाद में विरोधियों ने पुलिस की मदद से उनके सात कमरों के मकान में जेसीबी मशीन चलाकर उसे ध्वस्त कर दिया। विरोध के बाद भी पुलिस व अन्य विपक्षियों ने उनकी एक नहीं सुनीं तथा मकान ध्वस्त कर चले गए।

उनका आरोप हैं कि विपक्षियों ने उन्हें जान से मारने का भी प्रयास किया। इसकी शिकायत करने के बाद भी प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। कहा कि प्रशासन उनके मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। नाप खेत में बने मकान को जेसीबी से ध्वस्त करने व जान से मारने के मामले में भी प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। इस मामले में पूर्व में डीएम सहित अन्य अधिकारी भी आदेश कर चुके हैं। जिन्हें नजरअंदाज किया जा रहा है। कहा कि आरोपी विपक्षीगण आज भी खुलेआम घूम रहे हैं। जिससे उन्हें खतरा बना हुआ है। ब्यूरो

Read More on Amar Ujala

Categories: Uttarakhand News
Rahul Bisht :